जब पिया की याद आए तो क्या कीजे

बस आँखों से एक समंदऱ बहने दीजे

Advertisements